एलोवेरा के फायदे और नुकसान

एलोवेरा: एलोवेरा के बारे में तो आप सब जानते ही हैं एलोवेरा को हम ग्वारपाठा भी कहते हैं| ये आमतौर पर सभी के घरों में पाया जाता हैं. और लोग इसका इस्तेमाल भी करते हैं लेकिन लोग इसका इस्तेमाल  सिर्फ उन्ही लाभों के लिए करते हैं| जिनके बारे में उन्हें पता हैं इसलिए आज हम आपको बताते हैं| एलोवेरा के फायदे और नुकसान के बारे में|

एलोवेरा

ये एक औषधीय पौधा हैं जो विश्व भर में प्रचलित हैं| इसकी उत्पत्ति उत्तरी अफ्रिका में हुई थी| इस पौधे के गुणों के आधार पर इसे औषधीय पौधे के रूप में मान्यता दी गई हैं| इसका उपयोग आयुर्वेद में भी किया जाता हैं| इसका उल्लेख तो हमारे पुराने ग्रंथों और पुराणों में भी किया गया हैं|

एलोवेरा के औषधीय गुण

एलोवेरा में कई पोष्टिक तत्व पाए जाते हैं| इनमें 12 विटामिन, 18 अमीनो एसिड, 20 खनिज, 75 पोषक तत्व और 200 सक्रिय एंजाइम होते हैं| सिर्फ इतना ही नहीं बल्कि इसमें कई रासायनिक गुण जैसे खनिज कैल्शियम, जस्ता, तांबा, पोटेशियम, लोहा, सोडियम, मैग्नीशियम, क्रोमियम और मैंगनीज प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं|

इसके अलावा भी इसमें विटामिन के गुण भी भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं| विटामिन ई, विटामिन सी, विटामिन बी 12, बी 6, बी 2, बी 1, विटामिन ए, बी 1, बी 2, बी 6, नियासिन और फॉलिक एसिड शामिल है| इसके उपचार से हमें कई साकारात्मक परिणाम प्राप्त हुए हैं|

एलोवेरा के फायदे 

एलोवेरा के फायदे 

एडॉप्टोजेन: आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में बदलते हुए खान-पान का असर सीधे हमारी हेल्थ पर पड़ता हैं| जिससे कई बीमारियाँ जन्म लेने लगती हैं| एडॉप्टोजेन मानव शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करने, और वातावरण में होने वाले बदलावों के प्रभाव को तेजी से शरीर में ढालता हैं|

एलोवेरा में पर्याप्त मात्रा में पॉलिसैचेराइड्स, वायरस से लड़कर कई प्रकार की बीमारियों से शरीर को सुरक्षित रखते हैं| इसके लिए आप एलोवेरा का जूस लें, ये आपके शरीर को तनाव से लड़ने की क्षमता देगा इसके अलावा आपको बीमारी से बचाने में सहायक होगा|

पाचन क्रिया में सहायक: यदि आपको हमेशा अपने पेट में गैस बनने और खाना ना पचाने की परेशानी होती हैं| तो आपको एलोवेरा का उपयोग करना चाहिए, ये आपके पेट की किसी भी प्रकार की समस्या को समाप्त कर देता हैं|

इसके लिए आप 20 ग्राम एलोवेरा के रस में शहद और नींबू मिलाकर सेवन करें| यह पेट की बीमारी को दूर तो करता ही हैं और साथ ही पाचन शक्ति को भी बढ़ाता है|

कब्ज़ की समस्यां: कब्ज की समस्या अधिकतर बहुत ज्यादा लोगों में होती हैं| हर दूसरा इन्सान कब्ज की समस्या में परेशान रहता ही हैं| ये समस्या किसी भी उम्र में हो सकती हैं| इसके लिए आप ऐलोवेरो का उपयोग करें ये आपके लिए फायदेमंद होगा|

इसके लिए आप एलोवेरा के रस का सेवन करें छोटे बच्चों में कब्ज के लिए जूस व हींग मिलाकर नाभि के चारों ओर लगा दें| इसके अलावा यकृत मे बड़ रही सूजन में इसके गुदे का सेवन सुबह-शाम करने से यकृत की कार्यक्षमता बढती है| इससे पीलिया रोग भी दूर होता है|

बालों के लिए एलोवेरा: बालों के लिए तो एलोवेरा अमरवूटी के सामान हैं| बालों का झड़ना, बालों का सफेद होना बालों का रूखापन इस तरह की किसी भी समस्या को एलोवेरा के प्रभाव से दूर किया जा सकता हैं|

आपको इसके लिए एलोवेरा जेल को सिर्फ आधे घंटा लगाना हैं| इसके बाद आप उसको धो सकते हैं ऐसा आप महीने में सिर्फ दो बार करें| आपको इसके परिणाम कुछ ही महीनों में दिखाई देने लगेंगे| यह रूखे बालों को को ऑयली करने में सहायक होता हैं|

एलोवेरा जूस फायदे

अगर आपके बाल जड़ से खत्म हो रहे हैं, तो एलोवेरा का रस नियमित सिर पर लगाते रहने से नए बाल आने लगते हैं| इसका गूदा या जैल को निकालकर मेंहदी के साथ मिलाकर बालों की जड़ों में लगाएं इससे रूसी खत्म होने के साथ बाल काले, घने-लंबे एवं मजबूत बनते हैं|

एलोवेरा का जैल बनाकर बालों की जड़ों पर लगाए जाने से बालों में चमक आती हैं| और यह एक प्राकृतिक कंडीशनर के रूप में काम भी करता हैं| यह सिर के पीएच स्तर को संतुलित कर बालों मोस्चराइजड रखता हैं और बालों के विकास को बढ़ावा देता हैं|

एंटी सेप्टिक, एंटी बैक्टीरियल और एंटी फंगल: इसमें कोई शक नही कि एलोवेरा दुनिया का सबसें बढि़या एंटीबाईटीक और एंटीसेप्टिक गुण वाला होता हैं| जो हमारे शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता हैं| और हमारे शरीर को लगभग 21 अमीनोएसिड की जरूरत होती हैं|

एलोवेरा से 18 अमीनोएसिड की मात्रा को पूरा करता हैं इन गुणों से भरपूर एलोवेरा में सेपोनिन नामक तत्व होता हैं| जो शरीर की अंदरूनी सफाई करता है तथा रोगाणु रहित रखने का गुण रखता हैं| इसके अलावा खतरनाक बीमारियों से निजात भी दिलाता हैं| यह एड्स जैसी बीमारी में भी खास साबित होता हैं|

रियूमाटोईड अर्थरोइटिस: इस रोग में काफी दर्द होता हैं इसमें रोगी के हाथ, पैर और जोड़ों में दर्द, अकड़न या सूजन होती हैं| साथ जोड़ों में गांठें बन जाती हैं और शूल चुभने जैसी पीड़ा होती है, इसलिए इस रोग को गठिया रोग भी कहते हैं|

जिसका सही इलाज एलोवेरा में पाया गया हैं| सबसे पहले इसके दो फांक कर लें फिर इसमें हल्दी भरकर हल्का गर्म कर लें| और प्रभावित भाग पर लगातार पट्टी लगायें ऐसा आप लगातार 10 से 15 दिनों तक करें|

गठिया, जोड़ो में दर्द, मोच या सूजन में काफी राहत मिलेगी| जोड़ो के दर्द में एलोवेरा जूस का सेवन सुबह-शाम खाली पेट करें और प्रभावित जोड़ो पर लगाने से विशेष फायदा होता हैं|

ह्रदय रोग और मोटापा: आज की सबसे जटिल समस्यां हमारे शरीर में बढ़ता मोटापा हैं| जो ह्रदय रोग होने का मुख्य कारण बनती हैं| मोटापे से शरीर में तेजी से कोलेस्ट्रॉल बढ़ता हैं| और धीरे धीरे रक्तवाहिनी में वसा का जमाव होता हैं|

एलोवेरा का रस बेहद फायदेमंद होता हैं| एलोवेरा जूस रोजाना 20मिली-30मिली की मात्रा में पीने से शरीर में अन्दर से भरपूर तन्दुरूस्ती तथा ताजगी का अहसास होता हैं| तथा ऊर्जा का उच्च स्तर बना रहता हैं| इससे वजन भी शरीर के अनुकूल रहता हैं|

कोलेस्ट्रॉल का स्तर बनाए रखने में सहायक: हमारे शरीर का मोटा होने से शरीर में कोलेस्ट्रॉल तेजी से बढ़ता हैं| इसी कोलेस्ट्रॉल को कम करने में एलोवेरा सबसे महत्वपूर्ण रूप से काम करता हैं|

मधुमेह से लड़ने में: यदि आप डायबिटीज की समस्यां से परेशान हैं| तो 10 ग्राम एलोवेरा के रस में 10 ग्राम करेले का रस मिलाकर कुछ दिनों तक सेवन करने से डायबिटीज से मुक्ति मिल जाएगी| साथ ही 20 ग्राम आंवले के रस में 10 ग्राम एलोवेरा के गूदे को मिलाकर प्रतिदिन सुबह सेवन करें|

एलोवेरा के नुकसान

  • एलोवेरा के रस में एक Anthraquinone नामक पदार्थ होता हैं| जिसे ज्यादा मात्रा में लेने पर दस्त की परेशानी हो सकती हैं|
  • इसका सेवन करने से पहले चिकत्सक से सलाह जरुर लें लें यदि आप दवा लें रहे हैं| तो आप एलोवेरा का उपयोग डॉक्टर की सलाह बिना न करें|
  • गर्भवती और स्तनपान की महिलाओ को इसका सेवन नहीं करना चाहियें|
  • 12 साल से कम उम्र के बच्चो के लिए इसे नहीं देना चाहिए|

एलोवेरा जूस फायदे

ऐलोवेरो के जूस को प्रतिदिन सेवन में लेने से एनर्जी आती हैं| और ये हमारे शारीर की अन्दर से सफाई करती हैं| और हमारे शारीर को रोगाणु से मुक्त रखने में मदद करता हैं| एलोवेरा के जूस का सेवन बालों में करने पर बाल चमकदार हो जाते हैं और स्वस्थ भी रहते हैं|

फटी एड़ियों में एलोवेरा को लगाने पर ये बहुत ही जल्द ठीक हो जाती हैं| इसके जूस को पिने से त्वचा हमेशा नमी में रहती हैं| और चमकदार भी रहती हैं इसका उपयोग कोई भी व्यक्ति कर सकता हैं| ये नुकसान नहीं करता हैं सिर्फ ऊपर बताये गए कारणों के सिवा|

ये शारीर में ब्लड सेल्स की संख्या में बढ़ोतरी करती हैं| एलोवेरा का उपयोग सर पर करने में ये गंजेपन को भी धीरे धीरे दूर करता हैं| इसके सेवन से आप स्वस्थ रहते हैं और साथ ही वज़न भी कम होता हैं| एलोवेरा जूस मुंह के छालो को भी ठीक करता हैं| आप चाहे तो फेसवास के रूप में भी इसका उपयोग कर सकते हैं|

दोस्तों आपको यह हमारी एलोवेरा के फायदे और नुकसान वाली पोस्ट कैसी लगी| अगर आपको कुछ पूछना हो या सुझाव देना चाहते हैं तो नीचे कमेंट बॉक्स में आपका स्वागत है| इसके लिए भी आप हमें लिख सकते हैं| आपको इस वेबसाइट पर कौनसी बीमारी से सम्बंधित जानकारी चाहिए|