प्याज का ये उपयोग जानकर हैरान रह जायेंगे आप

प्याज़ का एक और बहुत बढ़ा फायदा भी है जिसके बारे में शायद ही कुछ लोग जानते हों रात को सोते समय अपने मोज़े में प्याज का एक टुकड़ा रखने के फायदे सुनकर हैरान रह जायेंगे आप यह बात मेडिकल भी कही गई है के प्‍याज में मौजूद जो फॉस्फोरिक एसिड होता है वो खून की धमनियों में घुस कर आपके खून को शुद्ध बनाता है यह भी एक तरह का Blood Purifier है. यहाँ आपकी जानकारी के लिये हम बता दें कि, के हमारे पांव काफी शक्‍तीशाली होते हैं हैं और इनकी हमारे शरीर में आंतरिक अंगों तक तक बिलकुल सीधे पहुंच होती है।

प्याज के टुकड़े को मोज़े में रखकर सोने के क्या फायदे हैं

दोस्तों रात को सोने से पहले अपने मोजे में प्‍याज का एक छोटा सा टुकड़ा रखने से हमें बहुत बढे फायदे मिल सकते हैं। इस बात को तो ज़्यादातर लोग जानते ही हैं कि प्‍याज और लहसुन वायु को शुद्ध करते हैं पर इस बात को बहुत कम लोग ही जानते हैं कि जब इन्‍हें शरीर पर लगाया जाता है तो यह शरीर कि अंदर के कीटाणुओं और जीवाणुओं का भी नाश कर सकते हैं। इसीलिए मोजे में प्याज रख कर सोने से हम अपने बदन के अंगों को भी स्वस्थ रख सकते हैं.

ये भी पढ़ें:- रूह अफजा कैसे बनाते हैं यहाँ पढ़ें

हमारे पैरों के नीचे यानि कि तलवों में अलग-अलग तंत्रिका जो कि (लगभग 7,000) होती हैं, और ये तंत्रिकाएं हमारे शरीर के विभिन्‍न अंगों से जुड़ी होती हैं । ये कोशिकाएं हमारे शरीर के भीतर एक शक्‍तिशाली बिजली के सर्किट की तरह से काम करते हैं, लेकिन ये तंत्रिकाएं अक्‍सर जूते या चप्‍पल पहनने की वजह से निष्‍क्रिय हो जाती हैं। इसी वजह से डॉक्टर आपको सलाह देते हैं कि हम सभी को कुछ समय के लिये नंगे पैर टहलना चाहिये और अगर आपको नंगे पैर चलने कि लिए हरी हरी दूबा (घांस) मिल जय तो क्या कहने।

ये भी पढ़ें:- मोज़े पहनकर सोने के कमाल फायदे यहाँ पढ़ें

प्‍याज को मोजे़ में रखने से हमारे बदन में बैक्टीरिया और रोगाणुओं का सफाया हो जाता है. प्‍याज में एंटी बैक्‍टीरियल और एंटी वायरल गुण भी होते हैं, जो शरीर पर रगड़ने से या उसका पेस्ट बनाकर लगाने से बैक्‍टीरिया और रोगाणुओं का नाश हो जाता है। प्याज हमारे शरीर में खून को शुद्ध करती है जब हमारी त्‍वचा द्वारा प्‍याज में मौजूद फास्‍फोरिक एसिड को सोख लिया जाता है तो यह खून को शुद्ध करने में काफी हद तक सहायक होता है.

गर्मियों में प्याज़ लू से आपका बचाव कैसे करती है

लू लगने पर पर प्याज एकमात्र विकल्प है दोस्तों ये बात तो आप सभी लोग जानते होंगे के गर्मियों में लू लग जाना हमारे भारत में एक आम बात है लेकिन, आप अगर कच्ची प्याज कहते हैं तो आपको लू कभी नहीं लगेगी. और अगर किसी को लू लग जाये तो लू लगने पर प्याज का रस पीने, और तलवों पर मलने से काफी फायदा मिलता है। और हमने अपने बुजुर्गों से या कुछ और लोगों से ये कहते भी सुना होगा कि अपने पास या अपनी जेब में प्याज का टुकड़ा या छोटी सी प्याज़ साथ रखने से लू नहीं लगती।

ये भी पढ़ें:- सेक्स करने से स्किन में निखार कैसे आता है

जोड़ों के दर्द में प्याज लाभकारी है

अगर किसी के जोड़ों में दर्द होता हो तो उन लोगों को प्याज के रस को सरसों के तेल में मिलाकर तकरीबन 6 से लेकर 8 हफ़्तों तक लगातार अपने जोड़ो पर अच्छे से मालिश करनी चाहिए. ज़्यादातर 45 या 50 से ज़्यादा की उम्र के लोगों में यह समस्या देखने को ज़्यादा मिलती है तो उनके जोड़ों के दर्द में प्याज एक असरदार दवाई के रूप में काम कर सकती है इसके अलावा आमवात में भी काफी आराम देखने को मिलता है।

प्याज के रस का उपयोग
प्याज के औषधीय गुण